बड़ी ख़बर(वीडियो)मुजफ्फरपुर SSP विवेक कुमार के आवास समेत कई ठिकानों पर छापेमारी, गिरफ्तारी की लटकी तलवार हो सकते है कभी भी गिरफ्तार

0
131

पटना Live डेस्क। बिहार में किसी आइपीएस अधिकारी के घर रेड की इस तरह की कार्रवाई की यह पहली खबर है। बताया जा रहा है कि विवेक कुमार बहुत जल्द केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने वाले हैं। इस रेड के बाद उनके प्रतिनियुक्ति पर जाने का मामला अटक सकता है। विवेक कुमार 2007 बैच के आइपीएस अधिकारी हैं। वर्त्तमान में मुजफ्फरपुर में सीनियर एसएसपी के पद पर कार्यरत हैं। लंबे दौर से शराब कारोबारियों से सांठगांठ और थाने को भी बेचने का आरोप लगातार एसएसपी विवेक कुमार पर लगा था। वही विगत दिनों जिले के पानापुर थाना के एक दारोगा जो महज एक दिन के लिए थानेदार बना फिर तत्काल हटा दिया गया ने आत्महत्या करली थी।पानापुर के दारोगा संजय गौड़ ने आत्महत्या की थी और उसकी पत्नी ने आरोप लगाया था। उसी दिन सरकार ने मुजफ्फरपुर के एसएसपी की कुंडली खंगालने का निर्देश दिया था। विशेष निगरानी इकाई ने बहुत कुछ खंगाल लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक यह छापामारी तो मात्र फॉर्मेलिटी है, FIR तैयार है,कार्रवाई भी की जा चुकी है।
उसकी काली कमाई का पता लगाने स्पेशल विजिलेंस की  टीम ने उनके मुजफ्फरपुर आवास पर सोमवार  दोपहर बाद अचानक धावा बोला और अभी तक आवास में छापेमारी जारी है। आवास से काफी संख्या में पुराने नोट बरामद हुए हैं, इन नोटों की गिनती की जा रही। टीम ने पहुंचते ही तुरत एसएसपी विवेक कुमार के आवास से सभी गार्ड्स को बाहर निकाल दिया। घर में मौजूद सभी लोगों के मोबाइल को बंद करा दिया गया है। आवास के अंदर किसी को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है।

 रत्न संजय कर रहे छापेमारी का नेतृत्व

स्पेशल विजिलेंस के आइजी रत्न संजय के नेतृत्व में एसएसपी आवास में चल रही छापेमारी। दो वाहनों में अधिकारी व एक बड़े वाहन में जवान पहुंचे हैं। उनके साथ ही दो एसपी स्तर के अधिकारी भी टीम में शामिल हैं।एसएसपी पर शराब माफियाओं से मिलीभगत के आरोप पर यह कार्रवाई चल रही। एसएसपी विवेक कुमार पर लगातार थाना बेचने का भी आरोप लगता रहा है।मिली जानकारी के मुताबिक एसएसपी आवास में छापेमारी टीम के लिए कुछ कर्मी खाना लेकर जाते दिखे हैं जिससे अंदाजा लगाया जा रहा कि छापेमारी देर तक चल सकती है। छापेमारी के लिए टीम पटना से गई है।

एसएसपी आवास से पुरानी करेंसी मिली

स्पेशल विजिलेंस की टीम में शामिल अधिकारियों ने बताया एसएसपी विवेक कुमार के आवास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले हैं। बीमा के कागजात, नगदी समेत कई कागजात। मगर,  सबसे बड़ी चौकाने वाली बात यह कि भारी संख्यामें पुराने करेंसी नोट बरामद हुए हैं।इसकी अधिकारिक पुष्टि की गई है।

एसएसपी विवेक कुमार पर प्रिवेंशन एंड करप्शन का केस दर्ज किया गया है। इस आधार पर माना जा रहा है कि उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है। अभी एक से दो घंटे तक छापेमारी चल सकती है। एसएसपी आवास को बीएमपी-एक के जवानों ने चारों ओर से घेर लिया है।

भागलपुर में कमाई थी अकूत संपत्ति

मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार भागलपुर में भी एसएसपी रहे हैं। विजिलेंस की टीम विवेक कुमार के मुजफ्फरपुर, दिल्ली, पटना समेत यूपी के भी कुछ ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। विवेक कुमार ने भागलपुर में भी काफी संपत्ति कमाई थी। भागलपुर में भी कुछ लोगों पर विजिलेंस की नजर हैं।