बाढ़ राहत के नाम पर गुजरात सरकार ने भेजा चेक,सूबे में गरमायी राजनीति,राजद का सीएम नीतीश पर हमला

पटना Live डेस्क. सरकार को घेरने के लिए विपक्ष किसी मुद्दे की तलाश में रहता है..और हैरत करने वाली बात यह है कि इस तरह की राजनीति आपदा के समय भी होती है…गुजरात सरकार ने बाढ़ राहत के लिए बिहार सरकार को चेक क्या दिया..सूबे की एनडीए  सरकार पर विपक्षी पार्टी राजद ने हमला बोलना शुरु कर दिया…राजद ने इसे राजनीतिक मुद्दा बताते हुए इसे राज्य का अपमान बताया है…उल्लेखनीय है किसाल 2010 में नीतीश कुमार ने बाढ़ राहत के नाम पर गुजरात सरकार द्वारा भेजे गए चेक को लौटा दिया था..उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी थे…पूर्व में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा पैसे लौटाने के सवाल पर राहत का चेक लेकर गुजरात से आए शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडसामा ने कहा कि समय परिवर्तनशील और बलवान होता है. यह कोई मुद्दा नहीं है और नीतीश कुमार के साथ मेरी बातचीत के दौरान ऐसा नहीं हुआ. उन्होंने केवल मेरे पोर्टफोलियो और कैसे मैं अपने विभागों को संभालता हूं, इसके बारे में उन्होंने मुझसे पूछा.

इस बीच राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि इस घटना के सात साल बाद भी गुजरात सरकार उसी राशि के साथ आई है. कम से कम उन्हें महंगाई का ध्यान रखना चाहिए था. उन्होंने कहा कि वह जानबूझकर उसी राशि से आए हैं, जो 2010 में नीतीश ने लौटा दिया था. यह घाव पर नमक को रगड़ने जैसा है. विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया कि आज जब नीतीश जी ने गुजरात सरकार का वही 5 करोड़ का चेक प्राप्त किया तो वह स्वयं को कितना लाचार, कमज़ोर और टूटा हुआ महसूस कर रहे होंगे?

हालांकि इस अवसर पर उपस्थित भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने नीतीश और चेक राशि का बचाव किया. उन्होंने कहा कि अन्य भाजपा शासित राज्यों छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और झारखंड ने भी राज्य को 5 करोड़ की राशि के साथ मदद की है, इसलिए यह कोई मुद्दा नहीं है…