भीषण बाढ़ ने बिहार में मचायी तबाही,क्षति का आंकड़ा कर सकता है 15 हजार करोड़ के पार,रिपोर्ट जुटाने में लगी राज्य सरकार

36

पटना Live डेस्क. सूबे के 19 जिलों में आए भीषण बाढ़ के चलते करीब 15 हजार करोड़ की क्षति की आशंका जतायी जा रही है..सरकार ने जो प्रारंभिक आकलन कराया है  उसके मुताबकि ये आंकड़ा करीब 10 हजार 7सौ 87 करोड़ का है..लेकिन जैसे-जैसे पानी उतर रहा है वैसे-वैसे क्षति का दायरा बढ़ता जा रहा है..अंदाजा लगाया जा रहा है कि पूरी तस्वीर के साफ होने तक ये आंकड़ा करीब 15 हजार करोड़ को पार कर जाएगा…राज्य सरकार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने सभी जिलों के डीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बाढ़ से हुई तबाही,राहत और बचाव कार्यों की रिपोर्ट ली है…इस दौरान जिलाधिकारियों को कहा गया है कि वो पीड़ितों को मुआवजे की राशि और राहत सामग्री पांच दिनों के भीतर बाढ़ पीड़ितों को उपलब्ध कराएं…कई जिलों से बाढ़ से हुए नुकसान की रिपोर्ट सरकार को प्राप्त हो चुकी है….और कई जिलों में नुकसान का आकनल कराया जा रहा है..जल संसाधन विभाग के क्षति का आंकड़ा 2300 करोड़ से बढ़कर 2800 करोड़ तक पहुंच चुका है…सामुदायिक किचेन और दूसरे मदों में आपदा प्रबंधन विभाग 4200 करोड़ से अधिक की राशि का दावा कर रहा है..

कहा जा रहा है कि बाढ़ से नुकसान की पूरी रिपोर्ट इसी हफ्ते केंद्र सरकार को भेजी जाएगी..कुछ विभागों से अभी भी अंतिम रिपोर्ट नहीं मिली है..आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी विभागों को एक-दो दिन में रिपोर्ट देने का आग्रह किया है..रिपोर्ट मिलने  के बाद ही केंद्रीय टीम मौके का मुआयना करने आएगी..केंद्रीय टीन दुर्गा पूजा से पहले कभी भी राज्य का दौरा कर सकती है..पिछले 26 अगस्त को ही प्रधानमंत्री ने बाढ़ पीड़ित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया था..जिसमें सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें राज्य में हुए नुकसान का पूरा ब्यौरा दिया था..