(वीडियो) गया गैंगरेप पीड़िता को जबरिया पुलिस गाड़ी रोकर उतारने और फ़ोटो खिंचवाने वाले राजद MLA सुरेंद्र यादव और अन्य पर मामला दर्ज

0
219

पटना Live डेस्क।सूबे के गया में बुधवार रात्रि डॉक्टर दंपति गैंगरेप मामले में पीड़िता के साथ प्रर्दशन करने वाले राजद नेताओं के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।मगध मेडिकल थाना के कांड संख्या 130/18 में अभियुक्त बनाए गए हैं। ये प्राथमिकी जुवेनाइल जस्टिस के तहत की दर्ज की गई है।साथ ही राजद नेताओं पर जबरदस्ती की धारा 114, 147, 353, 228A, और IPC 74 JJ के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में सियासत करने के लिए कुछ राजद नेताओं ने मेडिकल टेस्ट के लिए पीड़िता को ले जा रही पुलिस की गाड़ी को जबरिया न केवल रोककर प्रर्दशन किया था, बल्कि जबरदस्ती पीड़िता से मुलाकात को गाड़ी से बाहर निकालकर पीड़िता के साथ फोटो भी खिंचवाई थी और नारेबाजी की थी।
वही पीड़िता के बारे में एसएसपी गया राजीव मिश्रा ने कहा है कि पीड़िता अभी भी सही स्थिति नहीं है। जल्दी बात करने को तैयार नहीं होती है. पहचान उजागर ना हो इसलिए वो एफआईआर नहीं करवाना चाहती थी।काफी काउसंलिंग के बाद एफआईआर के लिए तैयार हुई है।साथ ही एसएसपी ने ये भी कहा है कि पीड़िता या किसी भी संबंधित व्यक्ति की पहचान ना जाहिर की जाए। उसके गांव, स्कूल या पड़ोसियों का नाम ना उजागर किया जाए जिससे उसकी पहचान का पता चले। इस मामले में आलोक मेहता के अलावा राजद महिला सेल की अध्यक्ष आभा लता,बेलागंज विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव, राजद गया जिलाध्यक्ष निजाम आलम,जिला महिला अध्यक्ष सरस्वती देवी पर नामजद प्राथमिकी दर्ज हुई है। देखे राजद नेेताओ की करतूत

आपको बता दें कि बुधवार को गया से पत्नी और बेटी के साथ बाइक से अपने गांव गुरारू जा रहे एक व्यक्ति के साथ 12 से 15 की संख्या में मय हथियार रहे अपराधियों ने पहले लूटपाट की थी और व्यक्ति को बंधक बनाकर उसके सामने ही पत्नी और बेटी के साथ दुष्कर्म किया गया था। पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।।कई थानों की पुलिस ने मिल कर छापेमारी कर 10 लोगों को हिरासत में लिया है।तीन आरोपियों को पकड़ा गया है।अब दोनों लोगों से पुलिस पूछताछ कर अन्य लोगों को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है। पीड़िता के पिता ने मामले में दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग है।