खुलासा EXCLUSIVE (वीडियो) पटना में अस्पताल से महिला को धक्का नही दिया गया था बल्कि वो खुद …

पटना Live डेस्क। रविवार की अहले सुबह राजधानी पटना के एक निजी अस्पताल पर मरीज को छत से धकेलकर हत्या का आरोप लगा है। घटना के बाद अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ की गई। जनाक्रोश पर नियंत्रण के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पटना के कंकड़बाग स्थित साईं अस्‍पताल पर यह सनसनीखेज आरोप लगा है। घटना के बाद आक्रोशित मरीज के परिजनों को अस्‍पताल के कर्मचारियों ने बुरी तरह पीटने जैसे आरोप के बाद विवाद और भड़क गया। भीड़ का गुस्‍सा अस्‍पताल पर टूट पड़ा। स्थिति पर नियंत्रण के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

लेकिन इस घटना का सच अब धीरे धीरे खुल कर सामने आ रहा है। पटना Live ने मामले की तहकीकात की तो जो सच निकल कर आया वो कुछ और ही इशारे कर रहा है। पटना Live के इस वीडियो में मकतूल युवती घटना के पहले ही अस्पताल में हाथ मे चाकू लेकर रात्रि यानी 3 बजकर 16 मिनट से तकरीबन 6 मिंनट तक टहलती रही। मक़तूल माला को साई अस्पताल द्वारा शनिवार की रात 8 बजकर 50 मिनट पर डिस्चार्ज कर दिया गया था। पर पति विकास कुमार की रिक्वेस्ट पर रात भर रोक लिया गया था बिल पेमेंट पर मकतूल माला गुप्ता के पति के रदस्तख़त भैया है। साथ ही इस बात का भी पता चला है कि माला का पूर्व में 2 बार एबॉर्शन किया जा चुका है। इसको लेकर वो काफी दुखी थी। मानसिक रूप से परेशान रहा करती थी। डिप्रेशन में थी।