Exclusive( वीडियो) कोर्ट परिसर में गवाही देने आइ महिला की जबरदस्त पिटाई

रंजन सिंह राजपूत , ब्यूरो प्रमुख, रोहतास

पटना Live डेस्क।रोहतास जिले के बिक्रमगंज में अजीबो गरीब स्थिति व्यवहार नायालय बिक्रमगंज के परिसर में मिली जहा गवाही देने आई माँ और बेटी को ससुराल वालो ने सैकड़ो लोगो के सामने जमकर लाठी डंडे से मार कर घायल कर दिय। पिटाई से जख्मी दोनों में माँ की स्थिति काफी ख़राब है। उसे सदर अस्पताल में भेज दिया गया। मामला व्यवहार न्यायलय बिक्रमगंज का है जहा दहेज़ और प्रताड़ना के पांच वर्ष पुराने मामले की सुनवाई चल रही थी। इसी मामले में पीडिता अपने माँ के साथ गवाही देने आई हुई थी। गवाही देने के बाद पीडिता के ससुराल वालो ने तलाक देने का दबाव बनाने लगे इनकार करने पर ससुराल वालो ने कोर्ट के बाहर गेट पर ही निकलते ही माँ बेटी पर टूट पड़े और और लाठी डंडे से तब तक मारते रहे जब तक की दोनों बेहोश गये और हद ये की सरेआम महिलाओं की पिटाइ कर कर आरोपी आराम से निकल गए। हद तो तब हो गई भीड़ से भरे कोर्ट में कोई इनको छुडाने तक नहीं आया। सबसे बड़ा सवाल यह है की कोर्ट परिषर में जो सुरक्षा व्यस्था होती है वो आखिर कहा थे , क्या सासाराम कोर्ट ब्लास्ट की ही तरह यह कोर्ट भी कसी बड़े घटना का इंतज़ार कर रहा है। मारपीट के वायरल वीडियो में साफ़ दिख रहा है की कानून के बिना डर के कैसे आरोपी पीड़ित परिवार को मर रहे है और भीड़ तमाशा देख रही है। जब न्यायालयों में लोग सुरक्षित नहीं है तब कहा सुरक्षित रहेंगे।

घटना के बारे में मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता की शादी काराकाट थाना के अमरथा गाव के सुनीता की शादी आज से वर्ष पूर्व काराकाट थाना के  बासडीहा के नीरज के साथ हुई थी पीडिता की दो पत्री और एक पुत्र भी है बड़ी पुत्री का उम्र लघभग 16 , पुत्र 12 साल और छोटी पुत्री 10 साल की है।आज से करीब 8 साल पहले पीडिता सुनीता को ससुराल वालो ने घर से बाल बच्चो के साथ निकाल दिया और दूसरी शादी कर ली तब से यह मामला कोर्ट में चल रहा था। आज इसकी अंतिम बहस और सुनवाई थी और पीडिता अपनी मा के साथ आज गवाही देने आई थी उसके बाद ही जैसे कोर्ट से निकल कर गेट पर पहुची की बाल पकड़ कर आरोपियों ने  बाहर खीच कर लाठी डंडे से जमकर पिटाई कर दी।पिटाई के दौरान महिलाएं मदद की गुहार लगाती रही लेकिन किसी ने छुडाया। वही इस घटना के दौरान  घटना के दौरान कोर्ट परिसर की सुरक्षा में तैनात पुलिस वाले नदारद रहे। बिक्रमगंज थाना ने मामला दर्ज कर करवाई शुरू कर दी। सवाल के घेरे में कोर्ट के सुरक्षा व्यवस्था।