बड़ी खबर (बिग ब्रेकिंग)- एमएलए अशोक सिंह हत्याकांड में राजद के पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह दोषी करार, हजारीबाग जेल भेजे गए

पटना Live डेस्क। पूर्व सांसद सह राजद नेता प्रभुनाथ सिंह को तात्कालिक विधायक रहे अशोक सिंह के नृशंस हत्याकाण्ड में दोषी करार दे दिया गया है। दोषी करार देते ही पुलिस द्वारा प्रभुनाथ सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। उल्लेखनीय है कि विधायक अशोक सिंह की राजधानी पटना के उनके सरकारी आवास  स्ट्रैंड रोड में 3 जुलाई 1995 की सुबह सबेरे बम मार कर हत्या कर दी गयी थी।
पूर्व सांसद और आरजेडी के नेता प्रभुनाथ सिंह को हजारीबाग हत्याकांड में दोषी करार दिया गया है।विधायक अशोक सिंह की हत्या के मामले में उन्हें झारखंड के हजारीबाग कोर्ट ने दोषी करार दिया है।मामले में पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह को दोषी ठहराया है। यह 22 साल पहले बिहार की सारण जिले की मसरख सीट से विधायक अशोक सिंह की हत्या का मामला है।

प्रभुनाथ सिंह महाराजगंज के पूर्व सांसद और मसरख के पूर्व विधायक रहे हैं। मामले में सजा का एलान 23 मई को किया जाएगा।

अशोक की पटना में उनके घर पर 3 जुलाई 1995 को बन मारकर हत्या कर दी थी।घटना में अशोक से मिलने आए अनिल कुमार सिंह की भी मौत हो गई थी।मामले में प्रभुनाथ के अलावा उनके भाई दीनानाथ सिंह को आरोपी बनाया गया था। इसके अलावा जांच में प्रभुनाथ के भाई केदार सिंह, रितेश सिंह और सुधीर सिंह का भी नाम सामने आया है। 1997 में पटना हाई कोर्ट के निर्देश पर मामले को पटना से हजारीबाग ट्रांसफर कर दिया गया था।