एकता कपूर ने स्मृति इरानी का पोल कुछ यूँ खोला, कहा स्मृति बेस्ट एक्ट्रेस है

पटना Live डेस्क। टेक्सटाइल मिनिस्टर, स्मृति ईरानी ने राजनीति से पहले टीवी सीरियल “क्योंकि सास भी कभी बहू थी” में “तुलसी” नाम से पॉपुलैरिटी हासिल की थी। उनकी हद से ज्यादा लोकप्रियता उनका राजनीती में आने का वजह बना। उस दौर में स्मृति ईरानी को कहाँ पता था कि बीजेपी पार्टी में शामिल हो उन्हें कभी नेता बनने का मौका मिलेगा। आज स्मृति राजनीति में ही पूरी तरह से फिट हो गयी है और अपनी मजबूत पकड़ बना ली हो पर अब भी “तुलसी” का क्रेज़ बना हुआ है। लोगो से अगर पुछा जाए कि आज तक के सारे टीवी सीरियल में सबसे बेहतरीन कलाकार कौन था तो लोगो के जुबान पर सिर्फ स्मृति का ही नाम रहता है। स्मृति सिर्फ दर्शकों की ही पसंद नहीं है बल्कि छोटे परदे की सबसे बड़ी निर्देशक और प्रोडूसर एकता कपूर की भी फेवरेट है। आज भी एकता स्मृति के गुणगान गाने से नहीं थकती हैं।

स्मृति के काम के प्रति लगन की तारीफ़ करते हुए एकता ने बताया कि, ” वह एक बेहतरीन अभिनेत्री हैं। कम ही लोग ये जानते होंगे कि स्मृति शादी के दिन तक भी काम कर रही थी। उन्हें पता था कि ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ की वह स्तम्भ हैं और वह छुट्टी लेंगीं तो इसका सीधा असर शो पर होगा। शादी ही क्या? यहाँ तक कि जब वह प्रेगनेंट थीं, उस दौरान भी काम करती रही और प्रेगनेंसी के आखिरी महीने तक भी पूरी लगन से काम की। इसके अलावा मई उनकी बाते बताऊ तो मुझे आज तक याद नहीं है, जब स्मृति काम पर देर से आई हों या उनकी वजह से कभी किसी को सेट पर दिक्कत हुई हो। मेगास्टार बनने के बावजूद काम के वक्त वह बिल्कुल जमीन पर रहती थीं, कभी उन्हें मैंने नखरे करते नहीं देखा है।” एकता कहती हैं कि, “अाज के दिनों में एक्टर्स में वो बात नहीं जो 15-20 साल पुराने के एक्टर्स में थी। उस टाइम लोग अपने काम के लिए पूरे डेडिकेटेड थे। मैं ये नहीं कह रही कि आज के एक्टर्स मेहनत नहीं करते। आज भी लोग करते है पर कुछ है जो उन दिनों के एक्टर्स को आज के एक्टर्स से भिन्न करता है।”

एकता साक्षी तंवर की भी तारीफ करटी नज़र आयी। उन्होंने बताया कि साक्षी आज भी उसी लगन से काम करती हैं जैसे पहले करती थी। उधर साक्षी भी एकता कपूर के लिए हमेशा काम करने के लिए तत्पर रहती हैं। एकता कहती है कि वह जब भी कोई भी सीरियल देखती है तो स्मृति की याद उन्हें बहुत याद आती है। वह चाहती है कि स्मृति को वो परदे पर देखे पर वो इस बात को समझती है कि स्मृति पर देश की जिम्मेदारी भी है और वो ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है इसलिए एकता स्मृति को एक्टिंग में भी वापसी करने के लिए फ़ोर्स नहीं कर सकती हैं ।