कटिहार मेडिकल कॉलेज गर्ल्स हॉस्टल में छापेमारी मामले में डीएसपी दोषमुक्त

0
129

पटना Live डेस्क। कटिहार मेडिकल कॉलेज में जबरन घुसने और छात्राओं से बदसलूकी का आरोप झेल रहे तत्कालीन डीएसपी मनीष कुमार सिन्हा को विभागीय जांच के बाद दोषमुक्त घोषित कर दिया गया है। साथ ही उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही को भी खत्म करने की बात कही गई है।
दरअसल जिस समय मनीष कुमार सिन्हा सचिवालय थाने में डीएसपी पद पर तैनात थे उसी दौरान जून 2013 में उनके नेतृत्व में भ्रष्टाचार के एक मामले में एक विशेष दल का गठन किया गया था। इस दल को कटिहार मेडिकल कॉलेज जाकर वहां के परिसर की तलाशी लेने की जिम्मेदारी दी गई थी।इस दल ने कटिहार जाकर मेडिकल कॉलेज परिसर की तलाशी ली थी,जिसमें महिला छात्रावास भी शामिल था। तलाशी के दौरान छात्राओं ने डीएसपी मनीष कुमार सिन्हा पर बदसलूकी के गंभीर आरोप लगाए थे।


छात्राओं के लिखित आरोप के बाद इस मामले में कटिहार जिलाधिकारी के अनुरोध पर विभाग ने मनीष कुमार सिन्हा पर विभागीय कार्यवाही के लिए सरकार को पत्र लिखा था. इसके बाद विभाग ने मनीष कुमार सिन्हा को लिखित तौर पर अपना पक्ष रखने को कहा था. मनीष कुमार सिन्हा ने इस मामले में अपना लिखित जवाब भी विभाग को सौंपा था लेकिन जवाब से असंतुष्ट विभाग ने उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने का फैसला लिया. इस मामले की जांच हुई, और जांच कर रहे संचालन पदाधिकारी ने अंत में मनीष कुमार सिन्हा पर लगाए गए सारे आरोपों को बेबुनियाद बताया और उन्हें इस मामले में निर्दोष बताया है.