बड़ी खबर – एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में पटना पुलिस को मिली जबरदस्त सफलता,मोकामा थानेदार ने मोस्ट वांटेड कुख्यात श्याम सुंदर को हथियार संग दबोचा

0
136

पटना Live डेस्क।पटना समेत आस पास के अन्य जिलों की पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुके कुख्यात साइको अपराधी श्यामसुंदर यादव को आखिरकार एसएसपी मनु महाराज के बेहद कारगर रणनीति के तहत मोकामा के बेहद तेजतर्रार थानेदार कैंसर आलम ने सादे लिबास में मय हथियार धर दबोचा। मोकामा ही नहीं बल्कि पटना पुलिस के लिए सिरदर्द बने मोस्ट वांटेड अपराधी श्याम सुंदर यादव एक बेहद दुःसाहसी और साइको किस्म का दुर्दांत अपराधियों की श्रेणी में शुमार किया जाता है। इसकी गिरफ्तारी से पूरे मोकामा समेत विशेष कर टाल क्षेत्र के लोगो को बड़ी राहत मिली है।
मिली जानकारी के अनुसार महिलाओं की इज्जत आबरू पर डाका डालने खातिर बेहद कुख्यात श्याम सुंदर की गिरफ्तारी खातिर एसएसपी पटना के नेतृत्व में पुलिस लगातार मुहिम चला रही थी।इसी बीच मनु महाराज को यह जानकारी मिली कि कुख्यात सुंदर अपने एक पूर्व परिचित के यहां मोकामा थाना क्षेत्र में आने वाला है।मिली जानकारी पर एसएसपी ने मोकामा थानाध्यक्ष को निर्देशित करते हुये मोस्ट वांटेड की गिरफ्तारी का आदेश दिया।


मिले निर्देश पर मोकामा थानाध्यक्ष ने फौरन अपने साथ सादे लिबास में पुलिसकर्मियों को लिया और फिर चिन्हित गांव की ओर चल पड़े। कैसर आलम की टीम थाना क्षेत्र के बरहपुर गांव पहुची और मिली सटीक सूचना के आधार पर पूर्व मुखिया के घर को घेर लिया। ये वही घर था जिस मे मौजूद था जिले का कुख्यात साइको किलर श्याम सुंदर यादव।मोकामा थाना अध्यक्ष के नेतृत्व में पुलिस सादे लिबास में थी।निशाने पर कुख्यात सुन्दर था,पुलिस मौक़ा चुकने को तैयार नही थी,खतरा भी बड़ा था क्योंकि सामने एक बेहद खतरनाक दुर्दांत अपराधी था और उसके पास कितने हथियार और कैसे हथियार है से पुलिस दल अंनजान था।


वक्त बीत रहा था सुंदर घर के अंदर और गिनती के पुलिस वालो संग मोकामा थानेदार बाहर खुल्ले में। अपनी बहादुरी और दिलेरी खातिर मशहूर इंसेक्टर कैसर ने आखिरकार निर्णय ले ही लिया और अचानक बाज की तरह कुख्यात पर धावा बोल दिया। लेकिन सामने था साइको अपराधी और बिलावजह गोलियां चलाने वाला श्याम सुंदर चारो तरफ से घिरने के बाद भी दुःसाहस कर दिया ,हथियार तानकर भागने की कोशिश की परंतु भागने में असफल रहा,वही गिरफ्तारी के समय भी पुलिस से मोस्ट वांटेड ने काफी हाथापाई की और भागने की कोशिश करता रहा है। लेकिन अपने थानेदार की बहादुरी को देख जोश में आये पुलिस कर्मियों ने सुंदर को ऐसा जकड़ा की सीधे हाजत में लाकर बंद कर दिया।
गिरफ्तार अपराधी सुंदर पर 20 से अधिक मामले में आरोपी श्याम सुंदर यादव  पुलिस पर फायरिंग सहित हत्या,लूट, रंगबाजी,अपहरण ,दुष्कर्म जैसे गंभीर आरोप हैं।मोकामा थानाध्यक्ष कैसर गिरफ्तार कुख्यात से पूछताछ कर रहे है। कई अन्य मामलों के उद्भेदन की है सभांवना।गिरफ्तार श्याम सुंदर यादव पर 20 से अधिक मामले दर्ज हैं। उसके खिलाफ 6 मामले पुलिस पर फायरिंग के भी हैं। इसके अलावा हत्या, लूट, रंगदारी और अपहरण भी आरोप पर हैं। 2012 में तत्कालीन थानाध्यक्ष सोनालाल सिंह ने उसे गिरफ्तार किया था। 3 साल जेल में रहने के बाद वह जमानत पर छूटकर बाहर आया और उसके बाद फिर उसने अपराधिक घटनाओं को अंजाम देना शुरु कर दिया था। हाल के दिनों में श्यामसुंदर यादव का आतंक काफी बढ़ गया था।                                           पुलिस का बन गया था सिरदर्द                                                          पटना जिले के कन्हाईपुर गांव निवासी कुख्यात श्याम सुंदर यादव ने पुलिस की नाक में दम कर रखा था। बेहद ही गंदे चरित्र का अपराधी श्याम सुंदर यादव पर महिलाओं की इज्जत से खिलवाड़ करने के गंभीर आरोप है। साथ ही लगातार आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने के आरोप लगते रहे हैं। विगत दिनों पहले ही अपनी विधवा चाची की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसके बाद गिरफ्तारी के लिए गई पुलिस टीम पर उसने ताबड़तोड़ फायरिंग भी की थी। घोड़े पर सवार होकर हथियार से लैस टाल में घूमता था। काफी छापामारी के बावजूद भी उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पा रही थी लेकिन आज सुबह उसको गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिल गई।