BiG News – पटना नवीन पुलिस लाइन के औचक निरीक्षण में मिलीं कई खामियां, डीआईजी ने एसएसपी से मांगा जवाब

पटना Live डेस्क। राजधानी स्थित नवीन आरक्षी केंद्र में हुए बावल के बाद से पुलिस लाइन में त्रुटियों में सुधार की संभावनाओं और बवाल के दौरान उत्पन्न विभिन्न समस्यायों के निष्पादन और भविष्य में ऐसे किसी समस्या से दो चार न होने पड़े के उद्देश्य से पुलिस मुख्यालय जहां लगातार समस्याओं को चिन्हित कर उसके त्वरित निष्पादन की प्रक्रिया को आरम्भ कर चुका है। वही दूसरे तरफ इस प्रयास को सफलता पूर्वक लागू करने के उद्देश्य से डीआईजी पटना राजेश कुमार ने मंगलवार को नवीन पुलिस केंद्र, का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नवीन आरक्षी केंद्र कई खामियां पायीं। इस बाबत डीआईजी ने एसएसपी पटना मनु महाराज से कई बिंदुओं पर लिखित जवाब मांगा है। इसके साथ ही बढ़ते अपराध और उसके नियंत्रण में ख़ाकी के ढीले रवैये को देखते हुए डीआईजी राजेश कुमार ने कई बेहद प्रभावशाली दिशा-निर्देश भी दिए है।
पुलिस लाइन में त्रुटियों से दो चार हुए डीआईजी ने एसएसपी से कई बिंदुओं पर  जानकारी मांगी है। साथ ही उन्होंने सभी थानों को आदेश दिया है कि महिने में कम-से-कम एक केस का स्पीडी ट्रायल करायें। साथ ही सूबे के विभिन्न जिलों से पटना जिला पुलिस बल में स्थानांतरित होकर योगदान देने आए अवर निरीक्षक और पुलिस निरीक्षक की लिस्ट भी तलब किया है।
साथ ही साथ पुलिस लाइन से बिना किसी जानकारी के फरार 165 पुलिस कर्मियों के विरुद्ध क्या कार्रवाई की गयी व इनमें से कितनों के ऊपर विभागीय कार्रवाई हुई ? कितने पुलिसवालों की सेवा समाप्त की गयी, इन तमाम कार्रवाईयों की भी जानकारी देने का फरमान जारी किया है। साथ ही साथ पटना पुलिस अंतर्गत कार्यरत रंगदारी सेल में तैनात अधिकारियों और पुलिसकर्मियों की सूची भी उपलब्ध कराने की हिदायत दी ही। इसके अलावे डायल 100  एवं जिले में ट्रैफिक दस्ते में तैनात पुलिसकर्मियों की भी सूची एसएसपी मनु महाराज को उपलब्ध कराने को कहा है। उपरोक्त तमाम सूची और जवाब एसएसपी को 24 नवंबर तक उपलब्ध कराने ख़ातिर डीआईजी द्वारा फरमान जारी किया गया है।