हद है ! “25 लाख का ऑफर” अफवाह को खबर बनाकर कर पटना पुलिस के सराहनीय प्रयास पर सवाल खड़े करने की शातिराना कोशिश

पटना Live डेस्क। बिहार से बर्मा तक सुल्तानिया के काले सल्तनत को लेकर लगातार नए खुलासों के बीच  खबरो की आपाधापी में “अफवाहों को भी खबर बनाकर प्रस्तुत किया जा रहा है।” एसएसपी मनु महाराज की टीम के इस बेहद उम्दा और सराहनीय प्रयास को “सवालों के घेरे” में लाने की शातिराना  कवायद के तहत बे सिरपैर की बातों को खबर के तौर पर लिखा जा रहा है।

सनद रहे कि पटना पुलिस ने फतुहा के जेठुली से एक अत्यधुनिक सिगरेट फैक्ट्री में छापेमारी कर एक बड़े कारोबारी राज कुमार सुल्तानिया को धर दबोचा। सुल्तानिया द्वारा फैक्ट्री में नकली विदेशी सिगरेट तैयार करने का गोरखधंधा लंबे समय से जारी था। एसएसपी पटना से मिले दिशा निर्देश पर जब फतुहा एसडीपीओ अनोज कुमार ने दलबल के संग  इसका उदभेदन किया तो, फैक्ट्री के प्रमुख साझीदार सह मालिक को भी पुलिस ने धर दबोचा। चुकी गिरफ्तार सुल्तानिया पटना व्यापार जगत का एक जाना माना नाम और बेहद तिकड़मबाज है। अफवाह उड़ने लगी की फैक्ट्री के मालिक राजकुमार सुल्तानिया 25 लाख रुपये तक अपनी रिहाई के बदले देने को तैयार है।


हद तो ये हो गई कि इस बेसिरपैर के अफवाह को बातौर खबर एक पोर्टल ने लिख भी दिया। खबरों की विश्वसनीयता के संकट को और बड़ा करने में भूमिका निभा दी। चुकी गिरफ्तारी शातिर सुल्तानिया की शुक्रवार रात हुई थी पटना पुलिस उससे पूछताछ कर उसके अन्य ठिकानों को ध्वस्त करने खातिर कवायद में जुटी थी। पर ..खैर इस बाबत अब पटना पुलिस कप्तान मनु महाराज ने साफ़ किया है कि सुल्तानिया के तरफ से कोई ऑफर किसी को नहीं आया।