मुंगेर सांसद और पूर्व सांसद सूरजभान के घर पहुंचे नीतीश कुमार, पुत्र शोक संतप्त परिवार से मिल दी सांत्वना

पटना Live डेस्क। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को मुंगेर की सांसद वीणा देवी एवं पूर्व सांसद सूरजभान सिंह से मिलने मोकामा स्थित उनके आवास 501 भवन पहुंचे। मुख्यमंत्री ने पुत्र शोक में डूबे सांसद एवं पूर्व सांसद से मिलकर उन्हें अपनी संवेदना प्रकट की और दु:ख की इस घड़ी में धैर्य बनाये रखने को कहा। विदित हो कि गत 27 अक्टूबर को ग्रेटर नोएडा में एक सड़क हादसे में सांसद वीणा देवी और सूरजभान सिंह के बड़े बेटे आशुतोष कुमार सिंह की मौत हो गयी थी। मुख्यमंत्री के साथ मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह,पूर्व मंत्री श्याम रजक, पूर्व मंत्री अशोक चौधरी और विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू मौजूद रहे।

                           दरअसल, बिहार के लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) की सांसद वीणा देवी और पूर्व सांसद सूरजभान सिंह के बडे बेटे 24 वर्षीय आशुतोष कुमार की 27 अक्टूबर दिन शनिवार को तड़के यमुना एक्सप्रेस-वे पर हुए सड़क हादसे में मौत हो गई थी। आशुतोष ग्रेटर नोएडा की शारदा यूनिवर्सिटी में एमबीए का छात्र था। हादसे की सूचना पुलिस ने आशुतोष के पिता पूर्व सांसद सूरजभान सिंह फ़ोन पर देने के बाद   शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।                   
वही, हादसे के बाबत थाना एक्सप्रेसवे के एसएचओ हंसराज भदौरिया ने बताया था कि शनिवार तड़के करीब 3:30 बजे आशुतोष क्रेटा कार लेकर ग्रेटर नोएडा से दिल्ली जा रहा था। सेक्टर-128 जेपी हॉस्पिटल कट के पास झपकी आने से तेज रफ्तार गाड़ी डिवाइडर से टकराकर पलट गई। एक्सप्रेस-वे पर  कार डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त होने की वजह से आशुतोष गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस की गाड़ी घायल आशुतोष को लेकर जेपी अस्पताल पहुंची। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक, जब आशुतोष को इमरजेंसी वॉर्ड में लाया गया था तो वह अचेत हो चुका था। उसके सिर और छाती में गंभीर चोट थी। इलाज के दौरान ही उसे दिल का दौरा पड़ा और सुबह 5:40 बजे उसने दम तोड़ दिया।                    
बेटे की मौत की सूचना मिलते ही परिजन शव को लाने के लिए जेपी हॉस्पिटल के लिए रवाना हो गए थे।बिहार में मुंगेर से लोक जनशक्ति पार्टी की सांसद वीणा देवी और बाहुबली नेता व पूर्व सांसद सूरजभान सिंह का बेटा आशुतोष कुमार ग्रेटर नोएडा मे रह कर शारदा यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई कर रहा था। वह एमबीए फाइनल ईयर का छात्र था।