राजेंद्र सेतु के सामानांतर बनने वाले पुल का रास्ता साफ,निर्माण कंपनी हुआ तय,कई और परियोजनाओं की भी केंद्र की मंजूरी

पटना Live डेस्क. राज्य में एनडीए सरकार के गठन के बाद केंद्र की योजनाओं और विशेष पैकेज का लाभ सूबे को मिलना शुरु हो गया है…बिहार विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित राजेंद्र सेतु के सामानांतर रेल पुल बनने का रास्ता लगभग साफ हो गया है…इस छह लेन वाले पुल को लेकर निर्माण कंपनी तय हो गई है…आशा है कि जल्दी ही इस पुल का निर्माण कार्य शुरु हो जाएगा…यह पुल मोकामा के औंटा से लेकर उत्तर में सिमरिया में मिलेगा..इऩ सारे मामलों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और एनएचएआई के अध्यक्ष दीपक कुमार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच बातचीत हुई..इस दौरान एनएचएआई के अध्यक्ष ने कई और सड़क और पुल प्रोजक्ट की जानकारी मुख्यमंत्री को दी…मुख्यमंत्री के साथ हुई इस बैठक में मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह..एनएचएआई के सदस्य आर के पांडेय..पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा और एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी मौजूद थे…बैठक में इस बात को लेकर भी सहमति बनी कि मोकामा से मुंगेर तक जाने वाले एनएच को फोरलेन में विकसित किया जाएगा…रजौली-बख्तियारपुर सड़की की फोरलेनिंग भी एनएचएआई द्वारा कराया जाएगा…