खुलासा –(वीडियो)पटना में दिन दहाड़े गला रेत कर हत्या मामले में पुलिस को मिला अहम सुराग, जल्द होगा खुरेजी का पर्दाफाश

146

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के पीरबहोर थाना क्षेत्र के दरियापुर-सब्जीबाग रोड के मुहाने पर चिकन शॉप के बाहर शनिवार को दिनदहाड़े एक युवक की गला रेतकर नृशंस हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष मो. गुलाम सरवर मौके पर पहुंचे और इलाके में चारों तरफ नाकाबंदी कर दी गई,लेकिन हत्यारों फरार होने में कामयाब रहे। वही कत्ल कर दिए गए युुुवक की पहचान आलमगंज चौकी के समीप रहने वाले अट्ठाइस वर्षीय मो.वकील अहमद के रूप में हुई है। शव को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए PMCH भेज दिया और मौका-ए-वारदात से एक कट्टा और दो चापड़ बरामद हुए। एक चापड़ जहाँ खून से सना था,वही दूसरा बिल्कुल साफ मिला।
वही पुलिस ने अपनी तफ्तीश को आगे बढ़ाते हुए सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम देने वाले हत्यारों की शिनाख्त के लिए घटनास्थल के आसपास लगे दुकानों और घरों के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालनी शुरू की तो उसे एक अन्नपूर्णा नामक दुकान से 2 संदिग्ध युवको का  भागता हुआ फुटेज मिला है। इसके सहारे पुलिस ने अपनी तफ्तीश को आगे बढ़ाते हुए इस नृशंस हत्याकांड की गुत्थी को लगभग सुलझाते हुए अपराधियों को भी चिन्हित कर लिया है।प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दोपहर में लगभग 3 बजे के आसपास दरियापुर-सब्जीबाग रोड के मुहाने पर स्थित चिकन शॉप के पास वकील को टहलता हुआ देखा गया था। इसी बीच अचानक 3 लड़के वहां आ धमके और उससे उलझ गये। पहले तो बाता बाती हुई फिर अचानक मारपीट शुरू हो गई। मारपीट होते ही चिकन शॉप में मौजूद व्यक्ति अपनी दुकान का शटर आधा ही गिराकर वहां से भाग निकला।प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दोपहर में लगभग 3 बजे के आसपास दरियापुर-सब्जीबाग रोड के मुहाने पर स्थित चिकन शॉप के पास वकील को टहलता हुआ देखा गया था। इसी बीच अचानक कही से 3 लड़के वहां आ धमके और उससे उलझ गये। पहले तो बाता बाती हुई फिर अचानक मारपीट शुरू हो गई। मारपीट होते ही चिकन शॉप में मौजूद व्यक्ति अपनी दुकान का शटर आधा ही गिराकर वहां से भाग निकला।
इसी बीच तीनो युवको ने वकील को सड़क पर पटक दिया और पीटने लगे फिर अचानक दो युवक बारी-बारी से अधखुले चिकेन शॉप में घुसे और एक-एक चॉपर हाथ में लेकर बाहर आए। इधर तीसरे युवक और वकील में गुत्थम गुत्थी जारी थी।चॉपर लिए युवको ने मौका देखते ही उसपर वार कर दिया तो पहला वार तो वकील ने हाथ से रोका तो उसका बुरी तरह से हाथ कट गया और उसके हाथ से घड़ी खुलकर गिर गई। इसी बीच मौका पाते ही दूसरे युवक ने वकील की गर्दन पर पीछे से जोरदार वार किया। इसके बाद बदमाश फरार हो गए। वकील ने कमर में बेल्ट के नीचे देसी कट्टा दबा रखा था।करीब दो-तीन मिनट तक सड़क पर तड़पने के बाद उसने दम तोड़ दिया।
वही घटना के बाद वारदात स्थल पर पहुचे अमरकेश डी,सिटी एसपी (मध्य) ने बताया कि मारे गए – वकील का आपराधिक इतिहास पता चला है।हालांकि, वह पहले कभी जेल नहीं गया था। हत्या का कारण अब तक स्पष्ट नहीं है।अनुसंधान जारी है।
गैंगवार में मारा गया वकील  वही मकतूल वक़ील के बाबत मिली जनकारी के अनुसार पिछले साल 17 अगस्त को पटना में गैंगवार में अपराधी इरफान आलम उर्फ सेट्ठी उर्फ सेठिया को दिनदहाड़े ताबड़तोड़ गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया गया था। घटना कदमकुआं थाने के फकीरबाड़ा स्थित रैनबसेरा के समीप हुई। अपराधियों ने सेट्ठी के शरीर में पांच गोलियां दाग दी थी,जिससे मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया था। इस कांड में कुख्यात डब्ल्यू खान उर्फ मुखिया सहित आधा दर्जन अपराधियों पर हत्या का आरोप है। सेट्ठी मूलरूप से सब्जीबाग का रहनेवाला था। मगर इन दिनों वह फुलवारीशरीफ में रह रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दोपहर डेढ़ बजे इरफान आलम उर्फ सेट्ठी रैनबसेरा के पास दोस्तों के साथ ताश खेल रहा था। तभी डब्ल्यू मुखिया सहित आधा दर्जन अपराधी वहां आ धमके थे। सेट्ठी को चारों ओर से अपराधियों ने घेर लिया। इसके बाद उसपर ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर दी। वही अपराधियों ने करीब दस राउंड फायरिंग की। पांच गोली सेट्ठी को लगी थी। हत्या में वकील अहमद की संलिप्तता सामने आई थी।

विश्वस्त सूत्रों की मानें तो मारे गए  वकील की हत्या इलाके में जारी वर्चस्व की लड़ाई परिणाम हो सकता है। वक़ील अबतक जेल तो नही गया था लेकिन पुलिस इसको सेट्ठी और विगत महिनो में एक दुकान पर बमबाजी के मामले में भी तलाश रही थी। वही मार डाले गए वक़ील की कुख्यात अपराधी डब्लू मुखिया गैंग से नजदीकी भी एक कारण माना जा रहा है।वही विगत दिनों एक डीएसपी से उसके ताल्लुक़ात बेहतर होने के भी सूचना है। जिसके के लिए वो मुखबिरी करने लगा था।
वही दूसरी तरफ हत्याकांड में जुटे पीरबहोर थानाध्यक्ष गुलाम सरवर सेट्ठी हत्याकांड के वक्त कदमकुआं थानाध्यक्ष के तौर पर तैनात थे और सेट्ठी मर्डर केस में नामित कई अपराधियों को दबोच कर उन्होंने जेल भेजा था।वही वर्त्तमान में पीरबहोर में वक़ील हत्या कांड का अनुसंधान करते हुए महज कुछ घंटों में ही इस कांड की गुत्थी को सुलझाकर हत्यारो को चिन्हित कर उनकी गिरफ़्तारी खातिर छापेमारी कर रहे है। उम्मीद है जल्द ही हत्यारों की गिरफ्तारी हो जाएगी।