बड़ी खबर -सीवान में जज पर चाकू से हमला, गाली-गलौज करते हुए हमलावर ने दी जान से मारने की धमकी,रुपये छीने

0
17

विजय राज, संवाददाता, सिवान

पटना Live डेस्क। सूबे में सुशासन है कानून का राज है ये महागठबंधन की सरकार का दावा है लेकिन ज़मीनी हक़ीक़त ये है कि सूबे में आम आदमी की क्या बात की जय जब जज ही सुरक्षित नही राह गए। रोहतास में नक्सलियों द्वारा पोस्टर लगाकर जजों को धमकी देने की धमकी का मामला अभी सुर्खियों में ही था कि सीवान में सोमवार की सुबह करीब पौने आठ बजे शहर के मुफस्सिल थाने के श्रीनगर मुहल्ले के डीएवी पब्लिक स्कूल में अपने बच्चों को स्कूल छोड़ने गये अवर न्यायाधीश षष्टम सह एसीजेएम अष्टम अखौरी अभिषेक सहाय पर सरेआम स्कूल के बाहर ही लोगो के सामने ने एक दुःसाहसी युवक ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। हालांकि,मौके पर मौजूद प्राचार्य व अन्य लोगों ने हस्तक्षेप को एसीजेएम को सुरक्षित बचा लिया। लेकिन, हमला करने वाले युवक ने उनके पॉकेट से 10 हजार रुपये निकाल लिये।


साथ ही उसने गाली-गलौज करते हुए एसीजेएम को सरेआम जान से मारने की धमकी देने लगा। इस बाबत घटना की जानकारी देते हुए जिला एवं सत्र न्यायाधीश को दिये अपने पत्र में एसीजेएम ने बताया है कि वे अपनी गाड़ी से अपने पुत्र व पुत्री को श्रीनगर के डीएवी पब्लिक स्कूल में छोड़ने गये थे। जब वे बच्चों को छोड़ कर लौट रहे थे। तभी एक युवक दौड़ कर उनकी गाड़ी के गेट के पास आया और गाली-गलौज करते हुए कॉलर पकड़ लिया तथा चाकू निकाल कर मारने की कोशिश करने लगा। इसी दौरान गेट के पास खड़े डीएवी के प्राचार्य,स्कूल का गार्ड व अन्य लोग दौड़े और हमलावर युवक से एसीजेएम को बचाया। लेकिन युवक ने उनके पॉकेट से 10 हजार रुपये निकाल लिये।
इधर,सूचना के बाद एएसपी कार्तिकेय शर्मा ने मौके पर पहुंच मामले की जानकारी ली। इस संबंध में एएसपी कार्तिकेय शर्मा ने कहा कि आवेदन मिला है। दोषी युवक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही रही है। उम्मीद है जल्द ही अपराधी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वही घटना के बाद पुलिस ने अपनी तफ़्तीश में स्कूल के प्राचार्य और गार्ड से पूछताछ कर हमलावर के बाबत जानकारी इकट्ठा कर लिया है। वही ,दूसरी तरफ घटना के बाद से पूरे शहर में चर्चों का बाजार गर्म है।