BiG News (वीडियो) आखिर क्यों रोने लगे भोजपुरी फिल्मों के सुपर स्टार खेसारी लाल यादव? कहा- मेरी हत्या ना करें प्लीज!

#भोजपुरी सुपरस्टार खेसारी लाल यादव पर जानलेवा हमला किया गया है।

#दस लड़कों का सिर फट गया। यहां तक खेसारी लाल यादव पर भी ईंट-पत्थर फेके गए।

# एक बार फिर महराजगंज के पूर्वे बाहुबली सांसद के भतीजे सुधीर सिंह को लिया आड़े हाथ

पटना Live डेस्क। भोजपुरी सुपरस्टार खेसारी लाल यादव पर जानलेवा हमला किया गया है। खेसारी लाल यादव ने बताया है कि उनकी तीन गाड़ियों को चकनाचूर कर दिया गया। इतना ही नहीं इनके दस लड़कों का सिर फट गया। यहां तक खेसारी लाल यादव पर ईंट-पत्थर से मारा गया। खेसारी इस हमले में बुरी तरह आहत हैं। खेसारी ने रो-रो कर अपनी दास्तान सुनाई है। वे कह रहे हैं कि मुझे मत मारें, मेरी हत्या मत किजिए, सरकार और पुलिस मेरी मदद करें। नहीं तो मुझे मौत के घाट उतार दिया जाएगा। इस हमले के बाद खेसारी सदमे में हैं। बिहार सरकार से उन्होंने सुरक्षा की मांग की है। इस घटना को लेकर उन्होंने जातिवादी लोगों पर निशाना साधा है।

कहाँ, कब और क्यो हुआ हमला                                 दरअसल, बिहार के वैशाली जिले के बिदुपुर थाना क्षेत्र के चकौशन बाजार में शनिवार की रात सुकमा के शहीदों की याद में एक कार्यक्रम रखा गया था। वहीं पर खेसारी यादव अपनी टीम के साथ गए थे। आयोजित कार्यक्रम में शामिल हो कर वो स्टेजपर कार्यक्रम पेश कर रहे थे की देर रात तकरीबन 12 बजे कार्यक्रम में जमकर हंगामा हुआ। हंगामे के दौरान दर्शकों ने सैकड़ों कुर्सियों को तोड़ डाला।माहौल खराब होता देख खेसारी लाल कार्यक्रम को पूरा किए बिना ही निकल लिए। कार्यक्रम स्थल से अपनी कार में सवार होकर जा रहे खेसारी लाल यादव की गाड़ी पर भी उपद्रवियों ने हमला कर दिया। यही नही वापसी में बिदुपुर क्षेत्र के चेचर में भी उनकी कार पर पत्थर से हमला किया गया।

फेसबुक Live पर रोते हुए बोले खेसारी                              इस घटना से आहत भोजपूरी सुपरस्टार रविवार को फेसबुक पर लाइव आकर खेसारी लाल यादव ने बताया, ‘कार्यक्रम के दौरान जनरेटर को बंद कर दिया गया। इसके बाद अचानक हमला किया गया। इस हमले में दस साथियों का सिर फट गया। इसके साथ ही उन पर ईंट-पत्थर से बमबारी की गई। किसी तरह जान बचाकर गाड़ी में भागे लेकिन बदमाशों ने मेरी तीन गाड़ियों को चकनाचूर कर दिया गया। मेरे साथी मुझे किसी तरह लेकर वहां से निकले तब जाकर जान बच पाई। मेरे हत्या की साजिश नकाम हो गई लेकिन मैं बिहार में सुरक्षित नहीं हूं।’

सदमे में खेसारी लाल

आगे उन्होंने कहा, ‘मैं महराजगंज से चुनाव नहीं लड़ना चाहता हूं, कलाकार हूं मुझे चैन से जीने दिजिए। हां, मैंने गुजरात में मारे गए बिहारी मजदूर के बच्चों को गोद लेकर सामाजिक संदेश दिया है। इसके चलते मुझे निशाने पर नहीं लें। मेरा राजनीति से कोई संबंध नहीं है। आपको मेरी जाति से दिक्कत है तो फिर आप मुझे अकेले ही मार दें। लेकिन इस तरह मेरे कार्यक्रम में हमला बोल कर फैंस को घायल ना करें। मेरे कार्यक्रम को यादव जाति के अलावा भी लोग देखते हैं। प्लीज उनको कुछ ना करें। मैंने कईयों के सिर को फटते देखा, रोते-चिल्लाते देखा है। मैं पूरी तरह सदमें में हूं। बिहार पुलिस व सरकार मेरी मदद करें।’ अब देखना है कि प्रशासन की ओर से क्या कार्रवाई की जाती है। इस दौरान खेसारी लाल रोते हुए फरियाद कर रहे थे।

फिर लिया बाहुबली पूर्व सांसद के भतीजे का नाम कई महीनों से खेसरी लाल यादव और महरजगंज के पूर्व बाहुबली सांसद प्रभुनाथ सिंह के भतीजे सुधीर सिंह के बीच सोशल मीडिया पर आरोप प्रत्यऱोप का दौर जारी है। वही खेसारी शनिवार को वैशाली जिले में अपने कार्यक्रम में हुए बवाल खातिर सुधीर सिंह और उनके सोशल मीडिया पर लिखे शब्दों को जिम्मेदार ठहराते प्रतीत हुए।