भोजपुरी की टॉप एक्ट्रेस, अंजली श्रीवास्तव ने की खुदकुशी

पटना Live डेस्क। भोजपुरी फिल्मों की एक्ट्रेस अंजली श्रीवास्तव ने गले में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बता दें कि अंजली ने रविवार को ही अपने मुंबई स्थित घर में पंखे से लटक कर खुदखुशी कर ली थी, पर इस बात का खुलासा सोमवार रात को हुआऔर फिर यह खबर आग की तरह फैल गई । इलाहाबाद में रह रहे अंजली के पैरेंट्स रविवार रात से अंजली द्वारा फोन ना उठाने से काफी परेशान थे। अंजलि के परिवार वाले जब अपनी लाड़ली की खोजखबर लेने के लिए सोमवार को घर के मालिक को फोन किया तब मकान मालिक घर जा कर दरवाजा खटखटाता रहा पर अंदर से कोई आवाज़ नहीं आयी। मकान मालिक ने तुरंत मुंबई पुलिस को इस बात की सूचना दी। पुलिस जल्द वह पहुंची और फ्लैट का दरवाज़ा तोड़ अंदर गयी तो पाया कि अंजली की बॉडी पंखे से लटके हुई है। पुलिस ने घर की पूरी छानबीन की लेकिन किसी तरह का सुसाइड नोट या कोई और साक्ष्य अभी तक नहीं पाया है। हालांकि, मांजरा क्या है, इस बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है पर फिलहाल पुलिस इसे आत्महत्या ही मान रही है।

 

मालुम हो कि अंजली ने भोजपुरी फिल्म ‘कच्चे धागे’, ‘दम होई जेकरा में ऊहे गाड़ी खूंटा’, ‘लहू के दो रंग’, ‘दिवानगी हद से’, ‘केहू त दिल में बा’, ‘अब होई बगावत’, ‘ठोक देब’ के साथ-साथ हिंदी फिल्म ‘धानी का डीजी कैम’ में भी काम किया था। आत्महत्या की वजह अब तक साफ़ नहीं हुई है पर सूत्रों एवं पुलिस के अनुसार अंजलि ने अपने करियर से परेशान होकर इतना बड़ा कदम उठाया। माना जा रहा है कि अंजली अपने करियर में और आगे बढ़ना चाहती थीं, जिसके लिए कई दिनों से काफी मशक्क़त भी कर रही थी। इसी वजह से मुंबई भी शिफ्ट हुई परन्तु निराशा ही हाथ लगने के कारण उनका सब्र का बाँध टूट गया जिसके कारण अंजली ने आत्महत्या जैसा कदम उठा ली। जांच पड़ताल से ही पता चला है कि अंजली के परिवार वालो को भी उनका फिल्मों में आना बिल्कुल पसंद नहीं था। कहने वाले तो ये भी कह रहें हैं कि उनके सुसाइड के पीछे बड़ा कारण उनकी असफल लव लाइफ है।