सलमान खान के ‘बीइंग ह्यूमन’ ने की ‘शैली’ की मदद, इलाज में लगे तक़रीबन 60 लाख रुपये

0
20

पटना Live डेस्क। पटना के गर्दनीबाग की रहने वाली ‘शैली’ आँख की एक गंभीर बीमारी थी जिसका नाम “क्राउजन” है। ये बिमारी ब्रेन की कई हड्डियां गल जाने के वजह से हो जाती है, जिससे इंसान की आँखें बाहर की तरफ निकली जाती है। शैली का इलाज बेंगलुरु में करवाया गया और ऑपरेशन में 60 लाख रुपये लग गए। बता दें कि इलाज का पूरा खर्च सलमान खान की संस्था “बीइंग ह्यूमन” ने उठाया। मालुम हो कि तीन बार शैली का ऑपरेशन किया जा चुका है। अब उसकी आँखें बाहर नहीं निकलती पर अभी भी इलाज जारी है क्योंकि पूरे तरीके से आँख सही होने में अब भी वक़्त लगेगा।

एक आदमी ने फेसबुक पर शैली की फोटो डाली और मदद के लिए लिखा। वह मैसेज देख एनजीओ के लोग आए। एनजीओ ट्राई की प्रोग्राम एसोसिएट खुशबू सिन्हा को शैली के बारे में पता चला, फिर उसने अपने बॉस को बताया। लेकिन पैसे बहुत लग रहे थे। फिर सलमान खान की संस्था बीइंग ह्यूमन से उन लोगों ने संपर्क किया और बीइंग ह्यूमन शैली की इलाज के लिए तैयार हो गयी। तब जाकर इलाज और फिर तीन बार ऑपरेशन किया गया। डिस्कवरी के लोग शैली पर डाक्यूमेंट्री बना रहे है, जिसकी शूटिंग लगभग पूरी भी कर ली गयी है। शैली के घर से लेकर अस्पताल तक की शूट हुई है और ये डाक्यूमेंट्री अगले साल दिखाई जाएगी।

शैली के पिता पिंटू कुमार ने कहा, ” बेंगलुरु में इलाज कराने के बाद अब शैली की आंखें बाहर नहीं निकल रही और वह आसानी से बच्चों के साथ खेल पाती है। मैं कभी इतना खर्च नहीं उठा पाता क्योंकि मैं तो सिर्फ एक गार्ड हूँ और मेरी सैलरी से जो भी पैसे आते थे उससे घर तक चलाना मुश्किल होता था। मैं सलमान खान की संस्था का शुक्रगुज़ार हूँ। ” शैली की मां चांदनी देवी ने कहा,” बचपन में शैली को कोई परेशानी नहीं थी। सिर्फ आंखें बड़ी थी। उम्र बढ़ने के साथ ये परेशानी बढ़ती गई। हल्की सी चोट लगने पर इसकी आंखें बाहर आ जाती थी। इस दौरान दर्द से शैली रोने लगती थी। मैं कपड़े से आंख को अंदर करती थी। मैं अब खुश हूँ कि मेरी बेटी ठीक हो रही है।”

Loading...