Big News (वीडियो) बंटी हत्याकांड में 3 गिरफ्तार, मुख्य आरोपी हथियार और एक साथी संग अबभी फरार, मारा गया युवक भी मर्डर केस में गया था जेल

0
234

बृजभूषण कुमार, ब्यूरो प्रमुख, पटना सिटी

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के शनिवार की देर रात 9 बजे के आसपास अपराधियों ने सुल्तानगंज थाना के मिस्री टोला में बंटी नाम के एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी।मृतक बंटी मूल रूप से बाढ़ का रहनेवाला बताया जाता है। वह मिस्री टोला में किराए के मकान में रहता था। वह कारपेंटर का काम करता था। इस संबंध में एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि इस मामले में कुल 5 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है। जिसमें से 3 की गिरफ्तारी हो चुकी है। वही 2 अपराधी चिंटू व बंटी फरार हैं। इन्ही फरार लड़को के पास हत्या में प्रयुक्त पिस्टल भी मौजूद है।
बकौल एसएसपी पटना के वारदात में हर्षित, रूद्र और अंशु को पुलिस ने टेकारी रोड से गिरफ्तार कर लिया है। तीनों से गहन पूछताछ की जा रही है। पूछताछ में पता चला कि गोली चलानेवाले युवक का नाम भी बंटी ही है। बंटी और उसका साथी चिंटू अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं आये हैं। पुलिस उन दोनों की गिरफ्तारी के लिए उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। एसएसपी मनु महाराज की मानें तो जल्द ही उन दोनों को भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा। पता चला है कि मकतूल बंटी और सभी आरोपी एक ही ग्रुप के हैं।

खेल खेल में चली गोली और ….

                       मिली जानकारी के अनुसार सभी लड़के रात्रि 9 बजे के आसपास घटना स्थल यानी सुल्तानगंज थाने के खान मिर्जा स्थित मिश्री टोला में खड़े थे। बात चीत हँसी मजाक का दौर जारी था तभी  आरोपी बंटी ने खेल-खेल में फायरिंग की जो बंटी को जा लगी और गंभीर हालत में उसे PMCH ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गयी।
पुलिस फिलहाल सारे आरोपियों के आपराधिक इतिहास को खंगालने में जुटी है। पुलिस पता लगा रही है कि आखिर सभी वहां किस मकसद से जुटे थे और हथियार कहां से लाया गया था। साथ ही मृतक बंटी और आरोपी बंटी के बीच किसी तरह का विवाद तो नहीं था ? कही यह हत्या किसी सुनियोजित साज़िश का हिस्सा तो नही ? क्या वाकई ये हत्या अनजाने में चली गोली का परिणाम है ? पुलिस तमाम एंगल से इस हत्याकांड को खंगाल रही है। साथ फरार बंटी की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की कवायद में जुटी है ताकि हत्याकांड का सच सामने आ सके।

 

                         वही इस हत्याकांड के बाबत सुल्तानगंज थानाध्यक्ष डीके श्रीवास्तव ने जानकारी साझा करते बंटी की हत्या आपसी रंजिश व इलाके में वर्चस्व जमाने को लेकर की गयी है। मारा गया बंटी भी आपराधिक प्रवृत्ति का था। हत्या के आरोप में वह जेल भी जा चुका था। हाल के दिनों में सुल्तानगंज इलाके में टीन एजर अपराधियों के कारनामे बढ़ गए हैं। चोरी, लूट, छिनतई, रंगदारी की घटनाओं में ये शामिल रहे हैं।