BiG News – पटना में एक्स वाइस चान्सलर और असिस्टेंट कमिश्नर के घर भीषण चोरी, कैश,लाखों रुपये मूल्य के जेवरात समेत रिवॉल्वर भी ले उड़े चोर, FSL की टीम को मिले है कई फिंगर प्रिंट्स

#कैश,सोने चाँदी के जेवरात समेत लाखो की चोरी
#लाइसेंसी रिवॉल्वर भी ले उड़े चोर
#घर का कोना कोना खंगाल डाला चोरों ने
#पारिवारिक सूत्रों का दावा अच्छा खासा कैश समेत 35-40 लाख रुपये मूल्य के जेवरात समेत कीमती सामान ले उड़े है चोर

पटना Live डेस्क।राजधानी पटना में पुलिस के सघन पेट्रोलिंग के दावों की धज़्ज़िया उड़ाते हुए अपराधी लगातार वारदातों को अंजाम दे रहे है।इसी क्रम में राजधानी के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र में स्थित छपरा में पोस्टेड असिस्टेंट सेल टैक्स कमिश्नर के आवास पर चोरों ने धावा बोल कैश सहित लाखों के जेवरात पर हाथ साफ कर दिया।साथ ही असिस्टेंट कमिश्नर का लाइसेंसी रिवॉल्वर भी ले उड़े। मामले की जानकारी मिलते ही स्थानीय थाना पुलिस मौके पर पहुची और घटनास्थल का मुआयना कर अपनी शुरुआती जांच को मुकम्मल कर मामले में एफएसएल की टीम को भी मौक़े पर बुलाया। एफएसएल की टीम के सदस्यों ने बेहद बारीकी से घर मुआयना कर फिंगर प्रिंट उठा लिए है। पुलिस पूरी गोपनीयता से अपनी तहकीकात कर रही है।

भीषण चोरी की वारदात पर सिर्फ़ रिवॉल्वर की बात    राजधानी पटना के पॉश इलाको में शुमार पत्रकार नगर थाना क्षेत्र के प्रोफेसर प्रोफेसर कालोनी के मकान नम्बर N-7 में व कुमार सिंह रहते हैं।सिंह साहब एक्स वाइस चान्सलर है।                                        वही बेटे बबलू कुमार बतौर असिस्टेंट सेल टैक्स कमिश्नर छपरा में पोस्टेड है। भले पोस्टिंग छपरा में है पर पटना से दूरी कम होने की वजह से आना जाना लगा रहता है। चोरी की घटना के वक्त अधिकारी के आवास पर ताला लटका हुआ था। घर के सभी लोग बाहर गये हुए थे। घर में हुई भीषण चोरी के बाबत तब पता चला जब असिस्टेंट कमिश्नर के पिता यानी गृहस्वामी वापस आवास पर पहुंचे, तो अपने घर का ताला टूटा पाया। घर में प्रवेश करने पर आलमारियों को खुला पाया और घर का सारा सामान अस्त व्यस्त। घर के हालात देखकर उनके होश उड़ गए। समझते देर न लगी की बंद घर लूट गया। फिर क्या था परिजनों को सूचना देने के बाद स्थानीय थाना पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। असिस्टेंट कमिश्नर के घर चोरी की सूचना मिलते ही थानेदार दल बल के साथ मौके पर पहुच गए और घटना स्थल का मुआयना कर अपनी शुरुआती जांच प्रारम्भ कर दी। मामला चुकी एक वरीय अधिकारी से जुड़ा था। तुरंत एफएसएल की टीम को भी मौक़े पर बुला लिया गया। घर के अन्दर जगह जगह पर कई कई हाथो के प्रिंट मिले है। साथ ही मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस पूरी गोपनीयता बरत रही है। साथ ही महज लाइसेंसी रिवॉल्वर के चोरी होने की बात कुबूल कर रही है। पुलिस के कहना है कि ध्रुव कुमार सिंह ने थाना में रिवाल्वर चोरी होने का मामला दर्ज कराया है। साथ ही पुलिस बेहद सतर्कतापूर्वक अपनी तहकीकात को आगे बढ़ा रही है। साथ ही मोहल्ले के घरो में लगे निजी सीसीटीवी को खंगालने की कवायद के साथ स्पाई नेटवर्क को टास्क सौप दिया गया है वारदात में शामिल अपराधियों का सुराग लाकर दो।

बन्द घर से सिर्फ़ रिवॉल्वर होगा चोरी?

बकौल पत्रकारनगर थाना पुलिस के N-7 के गृहस्वामी यानी असिस्टेंट सेल टैक्स कमिश्नर के पिता पूर्व वीसी डॉ ध्रुव कुमार सिंह ने थाना में रिवाल्वर चोरी होने का मामला दर्ज कराया है। सुनकर खुद में अजीब नही लगता चोर घर में चोरी करने घुसे उसवक्त घर मे कोई नही था। यानी मैदान साफ था। फिर भी वो घर से सिर्फ रिवॉल्वर लेकर चले गए ? ये तर्क हज़म नही होता न? अब सवाल उठता है आखिर पुलिस और गृहस्वामी दोनो क्यो हकीकत बयान नही कर रहे है? दरअसल दोनो ही मजबूर है।                
वही पटना Live ने जब चोरी की इस वारदात के बाबत जानकारी हासिल करने की कवायद की तो सूत्रों के जरिए कड़ी से कड़ी जोड़ते हम चोरी के शिकार परिवार से जुड़े एक शख़्स तक जा पहुचे और उनसे सच जानना चाहा तो उन्होंने नाम न उजगार करने की शर्त पर बताया कि परिवार को इस घटना से बड़ी चपत लगी है। अच्छा खासा कैश, सोने चाँदी के जेवरात कुछ डायमंड रिंग समेत अन्य कीमती सामान चोर समेट ले गए है। चोरो ने घर का कोना कोना खंगाल दिया है। कैश समेत लगभग 35-40 लाख रुपये के सामान पर चोरो ने हाथ साफ कर दिया है।

पीड़ित और पुलिस-दरअसल दोनो ही मजबूर है           पत्रकारनगर थानेदार अपने क्षेत्र में हुई इस भीषण चोरी को सार्वजनिक कर सीनियर अधिकारियों के कोपभाजन का शिकार नही होना चाहते है। साथ ही मीडिया में थानाक्षेत्र में पुलिस पेट्रोलिंग और सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया चिन्ह लगाए जाने से बचना चाहते है। अतः घटना के बाद से थाने में तैनात हर स्टाफ को अपना मुँह बन्द रखने की बेहद सख्त हिदायत दे दी गई है। साथ ही मामले के उद्भेदन खतिर युद्धस्तर पर प्रयास जारी है।                                वही,दूसरी तरफ वर्त्तमान दौर में छोटी सी घटना पर भी अमूमन लोगबाग मीडिया से मुख़ातिब होकर पूरी घटना को साझा करते है। लेकिन वारदात के शिकार सिंह परिवार इस मामले पर चुप है। वही पुलिस के कथनानुसार घर से महज रिवॉल्वर चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई गई है। पर जब पटना Live संवाददाता ने इस बाबत पीड़ित से उनका पक्ष जानने खातिर बात करने की कोशिश की तो बात करने से स्पष्ट रूप से इनकार कर दिया गया।दरअसल चोरी गए कीमती सामानो के FIR में उल्लेख कई सवालों को जन्म देंगे। यानी चोरी गए सामान मिलने की संभावना तो कम है मुसीबत बढ़ने के ज्यादा।

कुछ सवाल…

चोरी की वारदात के वक्त घर बन्द था, घर मे कोई नही था,फिर भी पूरे घर से चोर सिर्फ़ रिवाल्वर चुराकर ले गए? क्या चोर सिर्फ रिवॉल्वर चुराने ही आये थे? अब जरा आप ही सोचिए चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले जिनकी नजर रुपये, गहनों और अमूमन हर कीमती चीज पर होती है सिर्फ रिवॉल्वर लेकर चले गए होंगे?