करोड़ो की बेनामी संपत्ति मामला जाने – कैसे और किन आरोपों में घिरा है राजद सुप्रीमो लालू यादव का परिवार

40

पटना Live डेस्क। राजद सुप्रीमो के परिवार पर मिट्टी घोटाले से शुरू हुआ आरोप अब तक करोड़ो की बेनामी सम्पति के आरोप में बदल चुका है। मंगलवार को अहले सुबह से ही लालू प्रसाद यादव के दिल्ली एनसीआर के 22 ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है। लालू के परिवार की बेनामी संपत्ति मामले में ये रेड की गई। लालू के बेटे-बेटियों पर गलत तरीके से जमीन की खरीद फरोख्त के आरोप हैं। जिसके बाद आयकर विभाग ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए रेड की है।लालू  राबड़ी के परिवार पर संपत्ति विवाद से लेकर जमीनों की गलत तरीके से खरीद-फरोख्त के कई आरोप हैं। बेटी मीसा पर बेहद सस्ती जमीन खरीदने का आरोप लगा है।

बिहार भाजपा के वरीय नेता सह पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लालू प्रसाद की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती पर करोड़ी की जमीन कौड़ियों के भाव खरीदने का आरोप लगाया है।सुशील का दावा है कि मीसा ने अपने पति शैलेश कुमार के साथ मिलकर मुखौटा कंपनियों के जरिये जमीन खरीदीं। सूमो का आरोप है कि मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार ने दिल्ली में संदिग्‍ध तरीके से महज 1.40 करोड़ रुपये में सौ करोड़ कीमत वाली संपत्ति खरीदी है। उनके मुताबकि भारती और कुमार ने 25 अक्तूबर, 2008 में अपनी कंपनी मिशेल पैकर्ज एंड प्रिंटर प्राइवेट लिमिटेड के 10 रुपये मूल्य वाले शेयर शालिनी होल्डिंग लिमिटेड,ऐड-फ़िन कैपिटल सर्विस, मणि माला दिल्ली प्रॉपर्टीज़ प्राइवेट लिमिटेड और डायमंड विनिमय प्राइवेट लिमिटेड को 90 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर बेचे थे।फिर इन चारों कंपनियों ने अगले साल 25 सितंबर को ये सारे शेयर भारती और कुमार की कंपनी को वापस बेच दिए। यानी 90 रुपये की कीमत पर खरीदे गए इन शेयरों के लिए बस एक और दो रुपये ही लिए।


सुशील कुमार मोदी ने लालू प्रसाद यादव के परिवार पर मिट्टी घोटाले से अवैध सम्पति के बाबत आरोपो की शुरुआत की थी।आरोपों के मुताबिक राजधानी पटना में बिहार का सबसे बड़ा मॉल बनाया जा रहा है।इस मॉल का मालिकाना डिलाइट मार्केटिंग कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के पास है।आरोप है कि इस कंपनी में आरजेडी अध्यक्ष के लालू प्रसाद के बड़े बेटे और मंत्री तेजप्रताप यादव, छोटे बेटे और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और बेटी चंदा यादव डायरेक्टर हैं।आरोप है कि मॉल की मिट्टी को पर्यावरण एवं वन विभाग ने बिना टेंडर निकाले ही 90 लाख रुपए में खरीद लिया। बता दें कि लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव बिहार के पर्यावरण एवं वन मंत्री हैं।
फिर खुलासों के द्वारा सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव की दिल्ली में 115 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति होने का आरोप लगाया है।उन्होंने कहा कि आखिर क्यों मुंबई के 5 हीरा व्यापारियों ने बिना ब्याज के पांच करोड़ रुपये केबी एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड को लोन दिया और क्यों कुछ सालों के बाद एबी एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने अपनी कंपनी के सारे शेयर लालू के परिवार वालों के नाम कर दिए?सुशील मोदी ने दावा किया कि केबी एक्सपोर्ट्स की इमारत जिस जमीन पर बनी है।उसी पते पर लालू के विश्वासपात्र और आरजेडी सांसद प्रेम गुप्ता की कंपनी डिलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड भी रजिस्टर्ड है।