19 वर्षो से फरार हेलियस ग्रुप का चेयरमैन निखिल -प्रिया मामले में बना मुख्य गवाह तो बोले एडीजीपी पटना पुलिस से होगी पूछताछ

15

पटना Live डेस्क। 19 वर्षो से कानून की नज़रों में फरार हेलियस ग्रुप के चेयरमैन संजय कुमार सिंह सूबे के चर्चित निखिल प्रियेदर्शी और पूर्व कॉंग्रेसी मंत्री की बेटी के यौवन शोषण मामले में गवाह बना और दिसंबर 2016 में दर्ज बहुचर्चित निखिल -प्रिया मामले में भी संजय कुमार सिंह एसआईटी के समक्ष उपस्थित हो अपना गवाही दर्ज कराया और फिर पटना पुलिस नेे उसे गिरफ्तार करने की जहमत नही की। आख़िर क्यो ?                                                 इस बाबत पटना Live ने नवनियुक्त एडीजीपी एस के सिंघल पूछा तो उनका कहना रहा कि पटना पुलिस से रिपोर्ट मांगी जाएगी और संबंधित पुलिस पदाधिकारी से पूछताछ होगी। सीआईडी को मिली रिपोर्ट में भी संजय कुमार सिंह को फरार बताया गया हैं।

फरार घोषित होने के बाद भी राजधानी के सड़कें पर खुलेआम घूम रहा हेलियस ग्रुप के चेयरमैन संजय कुमार सिंह की अब मुश्किलें बढ़ने वाली हैं । सीआईडी द्वारा मांगी गयी रिपोर्ट में पटना पुलिस ने स्पष्ट कर दिया हैं की संजय सिंह लम्बे अरसे से फरार है और बाढ़ पुलिस ने फरार घोषित करते हुए बाढ़ कांड संख्या 215 /1998 में फरार घोषित करते हुए चार्जशीट दाखिल किया गया हैं।
इस मामले में पुलिस मुख्यालय के एडीजीपी एस के सिंघल ने कहां की मैं दो दिन पहले ही चार्ज लिया है।मुझे जानकारी नहीं हैं किस प्रस्थिति में संजय कुमार सिंह इतने लम्बे समय से फरार चलरहा हैं। पटना पुलिस से अविलंब रिपोर्ट मांगने की बात कहीं और कहां की पटना पुलिस से पूछताछ की जाएगी और जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इधर खबर छपने के बाद संजय कुमार सिंह भूमिगत हो गया हैं।

उल्लेखनीय है कि हेलियस ग्रुप का चेयरमैन वर्ष 1998 में दर्ज बाढ़ कांड संख्या 215 /98 में फरार है। पुलिस ने फरार दिखाते हुए चार्जशीट दाखिल किया हैं।19 वर्षों से फरार चल रहा संजय सिंह ने वर्ष 2013 में, पटना जिले के एसके पुरी थाने में दो प्राथमिकी संजीत शर्मा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराया था। इस दौरान पुलिस ने कई बार फरार संजय कुमार सिंह से मुलाकात कर दोनों कांड में गवाही अंकित किया। संजीत शर्मा के खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट भी दाखिल किया।