बड़ी खबर – (वीडियो) एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में पटना पुलिस ने महज 24 घंटे में अपहृत चश्मा व्यवसायी को किया सकुशल बरमाद, 6 अपहरणकर्ता गिरफ्तार

0
323

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के कदमकुआं थाना क्षेत्र से 16 जून को अपहृत नाला रोड में है गुप्ता ऑप्टिकलस के मालिक अनिल गुप्ता को पुलिस ने सकुशल औरंगाबाद से बरमाद कर लिया। साथ ही इस अपहरणकांड में शामिल 6 अपहरणकर्ताओं को भी धर दबोचा है। पुलिस टीम अब भी कांड में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी खातिर लगातार छापेमारी कर रही है।
दरअसल, पकदमकुआं थाने के नाला रोड से अपह्त चश्मा व्यवसायी अनिल गुप्ता को पुलिस ने सोमवार की दोपहर औरंगाबाद के ओबरा स्थित जंगल से बरामद कर लिया। अनिल को उसके ही ड्राइवर मुकेश कुमार भुलेटन व उसके साथियों ने मिलकर अगवा किया था। अगवा करने के बाद परिजनों से 50 लाख फिरौती की मांग कर रहे थे।
उल्लेखनीय है कि अनिल गुप्ता के अपहरण की जानकारी परिजन को 16 तारीख को उस वक्त मिली जब व्यवसायी को छोड़ने के एवज में फोन पर अपराधियों ने 50 लाख की फिरौती की मांग की। अपहरण की बात सुनते ही अनिल के परिवार में कोहराम मच गया।काफी सोच विचार कर गुप्ता परिवार ने स्थानीय थाना में अनिल के अपहरण का मामला दर्ज कराते हुए मदद की गुहार लगाई। साथ ही वो नंबर भी बताया जिससे फिरौती के रकम की मांग की गई थी।
मामले की गभीरता को देखते हुए थानेदार ने मामले की जानकारी वरीय पुलिस अधिकारियों से साझा करते हुए दिशा निर्देश मांगा। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी ने मामले की मॉनिटरिंग शुरू करते हुए एक टीम का गठन किया जिसमें कदमकुआं थानाध्यक्ष अजय कुमार,दरोगा विकास कुमार समेत अन्य तेजतर्रार पुलिस कर्मियों को शामिल किया और फौरन मामले के उद्भेदन की रणनीति तय कर सबको रवाना कर दिया।
वही, एसएसपी मनु महाराज ने प्रेस वार्ता में बताया कि 16 जून की दोपहर अनिल अपनी एसयूवी गाड़ी से ड्राइवर मुकेश के साथ धूमने निकले थे। तभी ड्राइवर अनिल को औरंगाबाद ले गया। वहां उसने अपने चार साथियों को बुला लिया। उसके बाद उसे अगवा कर गाड़ी में ही जंगल में घुमाते रहे। इस बीच 17 जून की रात मकेश के साथी ने अनिल के दोस्त के मोबाइल फोन पर कॉल कर फिरौती में 50 लाख की मांग की। बाद में 20 लाख पर आ गए थे। फिरौती के लिए कॉल आने के बाद अनिल के बेटे अमन ने पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस सक्रिय हो गयी। मोबाइल लोकेशन के आधार पर सोमवार की दोपहर अनिल को बरामद कर लिया गया। साथ ही ड्राइवर मुकेश व उसके पांच साथियों को भी पुलिस ने दबोच लिया। इनके पास से नकली पिस्टल के साथ कमरे भी मिले हैं। कैमरे से अपराधियों ने अनिल का अश्लील विडियो भी बना लिया था ताकि बाद में उसे ब्लैकमेल किया जा सके। दबोचे गए अपराधियों में मुकेशकुमार मेहता (गुरना अररिया),रवि गोस्वामी (गुरना) ,रवि भाष्कर (गुरना) व जमील अख्तर सुभानी (दिनाजपुर,पश्चिम बंगाल) व देशांत कुशवाहा (नरपतगंज, अररिया) है।