कोर्ट के फैसले पर बोले आदित्य के पिता,’न्याय की जीत हुई,बढ़ा न्यायालय पर लोगों का भरोसा’

18

पटना Live डेस्क.  गया के बहुचर्चित आदित्य सचदेवा हत्याकांड के दोषियों को कोर्ट की तरफ से सजा मिलने के बाद आदित्य के पिता ने इस फैसले पर खुशी जताई है…आदित्य के पिता श्याम सचदेवा ने कहा कि कोर्ट ने आज न्याय किया है…हमलोग अदालत के फैसले से संतुष्ट हैं…हमलोगों ने पहले ही कहा था कि दोषियों को फांसी की सजा न दी जाए..क्योंकि बेटे के जाने पर मां-बाप क दिल पर क्या गुजरती है वो हमलोग देख रहे हैं..उन्होंने कहा कि मेरा बच्चा बेसकूर था. कोर्ट के इस फैसले से पूरे देश में एक मेसेज गया है कि सच्चाई की हमेशा जीत होती है और इससे लोगों का न्यायालय पर भरोसा और बढ़ा है.

उन्होंने कहा कि बेटे को खोने का गम हमे जिंदगी पर रहेगा हालांकि दोषियों के सजा से हमलोग संतुष्ट हैं. इस दौरान सभी लोगों का हमे सहयोग मिला. पूरे देश की इस केस पर नजर थी. इस फैसले से एक बार फिर अदालत पर लोगों का भरोसा बढ़ा है.

आपको बता दें कि बहुचर्चित आदित्य सचदेवा हत्याकांड में कोर्ट ने मुख्य आरोपी रॉकी यादव समेत तीन दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. कोर्ट ने बुधवार को रॉकी के अलावा राजेश कुमार, टेनी यादव को भी उम्रकैद की सजा सुनाई. साथ ही कोर्ट ने जुर्माना भी लगाया है…कोर्ट ने रॉकी यादव के पिता बिंदी यादव को पांच साल की सजा सुनाई है..
गया में हुए इस हत्याकांड में व्यवसायी पुत्र आदित्य सचदेवा की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. कोर्ट ने चार में से तीन आरोपियों रॉकी यादव, राजेश कुमार और टेनी यादव को धारा 302 के तहत दोषी पाया था, जबकि रॉकी के पिता बिंदी यादव को दूसरी धारा के तहत दोषी पाया था.

रॉकी के पिता बिंदी को इस मर्डर केस में कोर्ट ने पांच साल की सजा सुनाई है. कोर्ट ने चारों दोषियों पर आर्थिक जुर्माना भी लगाया है. कोर्ट ने रॉकी पर एक लाख रुपये का, जबकि अन्य दोषियों पर 30-30 हजार का जुर्माना लगाया है.

पिछले 31 अगस्त को कोर्ट ने एमएलसी मनोरमा देवी के पुत्र रॉकी यादव, उसके चचेरे भाई टेनी यादव, बॉडीगार्ड राजेश कुमार और पिता बिंदी यादव को भी दोषी ठहराया था.