BIG NEWS – गुजरात में तेज धारदार चाकू से स्कूल के बाथरूम में 9वीं के छात्र का मर्डर, दो छात्रों से हुआ था झगड़ा, पुलिस को मिला चाकुओं से भरा बैग

पटना Live (नेशनल) डेस्क। गुजरात के वडोदरा में एक स्कूल के वॉशरूम में 9th क्लास के छात्र की हत्या मामले में ये साफ हो गया है कि छात्र की हत्या उसके सीनियर ने ही की है। वडोदरा पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को छात्र और कुछ सीनियर के बीच स्कूल के वॉशरूम में किसी बात पर बहस हुई जिसके बाद उन्होंने उसपर चाकू से वार किया और उसकी हत्या कर वहीं छोड़ गए। पुलिस ने बताया कि जब वो घटना स्थल पर पहुंचे तो 14 साल के बच्चे का शव स्कूल के फर्स्ट फ्लोर पर वॉशरूम में पड़ा था। बच्चे के पेट को चाकुओं से गोद दिया गया था। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

इससे पहले वडोदरा के पुलिस कमिश्नर ने बताया था कि घटना के बारे में पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। शक के आधार पर पुलिस ने 4 लड़कों से पूछताछ की थी जिसके बाद ये साफ हो चुका था उन चार लड़कों में से ही किसी एक ने 10वीं के छात्र का मर्डर किया है और बाकी बचे तीन छात्रों में से किसी एक ने उसकी मदद की थी।                      

ये है पूरा मामला

वडोदरा के भारतीय विद्यालय में उस वक्त हड़कंप मच गया है,जब स्कूल के वॉशरूम में एक 9th क्लास के छात्र का खून से लथपथ शव मिला। खबरों की मानें तो देव भागवद नाम के इस छात्र की स्कूल के ही दो अन्य छात्रों से झड़प हो गई थी।आशंका है कि इसके बाद उन्होंने भागवद् पर धारदार हथियार से हमला किया, जिससे उसकी मौत हो गई। अफरातफरी में दोनों छात्र उसका शव स्कूल वॉशरूम में फेंककर चले गए। खबरों की मानें तो भागवद् अभी इस स्कूल में नया था और ये झड़प कुछ दिन पहले हुई थी।
घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने स्कूल से सटे मंदिर की छत से एक बैग बरामद किया।बैग में हथियारों के साथ तीन चाकू और चिली पाउडर मिला है। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और मामले की आगे जांच कर रही है। फॉरेंसिक अधिकारी के मुताबिक यह पूर्वनियोजित हत्या प्रतीत होती है। छात्रों के बैग से चाकू के अलावा मिर्ची पाउडर का पानी भी मिला।गुरूग्राम में आ चुका है ऐसा ही एक मामला

पिछले साल दिल्ली से सटे गुरूग्राम के एक स्कूल में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था। स्कूल के वॉशरूम में एक बच्चे की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। ये मामला उस वक्त काफी सुर्खियों में रहा था। इस घटना ने गुड़गांव के प्रद्युम्न की याद दिला दी, जिसकी हत्या पिछले साल गुड़गांव में कर दी गयी थी। वह रेयान इंटरेशनल स्कूल का छात्र था और मात्र सात साल का था।इस मर्डर केस की जांच अभी चल रही है. इस घटना के बाद स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर कई गाइडलाइन भी जारी किये थे।