BiG Breaking (वीडियो) पटना के फुलवारीशरीफ थानेदार ने 2 चोरों को ऑन स्पॉट एटीएम काटते दबोचा

यूट्यूब से प्रशिक्षण लेकर पटना के फुलवारी स्थित एचडीएफसी के एटीएम को काटने का प्रयास करते दो शातिर चोरों को पुलिस ने ऑन स्पॉट धर दबोचा। महज छः ईंच और एटीएम काट लेते तो एचडीएफसी के एटीएम के लाखो रूपये लूट जाते।

2286

पटना Live डेस्क। यूट्यूब से एटीएम काटने का प्रशिक्षण लिए एटीएम काटने वाले गिरोह के दो शातिर बदमाशो को शहर के मिल्लत कोलोनी मोड़ पर एचडीएफसी के एटीएम को काटने का असफल प्रयास करते रंगे हाथ फुलवारी शरीफ थाना की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। महज छः ईंच और एटीएम काट लेते तो एचडीएफसी के एटीएम  के लाखो रूपये लूट जाते।

एसएसपी मनु महाराज ने चोरों को ऑन स्पॉट एटीएम में लाकर की पूछताछ

दोनों बदमाशो को एसएसपी मनु महाराज ने ऑन स्पॉट एटीएम में लाकर डेमो कराया। दोनों बदमाशो ने पुलिस आफिसर को डेमो के जरिये दिखाया की कैसे वे लोग एटीएम को काटकर रूपये लूटना चाह रहे थे। इसी एटीएम को एक साल पहले भी लूटने का प्रयास किया था जिसे स्थानीय लोगों ने पकड़ा था। एटीएम काटने के में गैस क़टर, गैस सिलेंडर समेत अन्य औजारों का इस्तेमाल कर दिखाया। गिरफ्तार एटीएम लूटेरे सब्जी बाग़ के परवेज बुक डीपो के संचालक स्वर्गीय परवेज अख्तर का पुत्र सरोज अख्तर और खगौल के स्व मानुल हक के बेटे एहतेशाम अहमद को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने दो और लोगों को हिरासत  में लिया है।

सरोज अख्तर मनिपाल यूनिवर्सिटी से बीएससी आईटी जबकि एहतेशाम पटना कॉलेज से बीए पास कर चूका है। बताया जाता है की ये दोनों जमाल रोड के तृप्ति इंटरप्राईजेज और ए आर गैस एजेंसी एस के पूरी से गैस सिलेंडर,क़टर और अन्य सामान खरीद कर लाये थे। इन दोनो दुकानों के स्टाफ की संलिप्तता की जांच के लिए फुलवारी शरीफ थाना में पूछताछ किया जा रहा है।पकडे गये दोनों बदमाश दुपहिया ,चार पहिया वाहन चुरा कर ओएलएक्स पर बेचने के मामले में भी पहले ही जेल जा चुके हैं।मार्च  वर्ष 2017 में रिहा होकर बाहर आकर युट्यूब से एटीएम काटने का ट्रेनिंग लेकर एटीएम काटकर रूपये लूटने का काम शुरू कर दिए। एटीएम लूटपाट के इस मामले में फुलवारी शरीफ के युवको की संलिप्तता की जांच भी की जा रही है।

दिन में करते थे रेकी और रात में एटीएम काटने का किया धंधा

एटीएम काटकर रूपये उड़ाने में रंगे हाथ पकडे गये सरोज अखतर और एहतेशाम अहमद दिन में एटीएम की रेकी करते थे और रात में वैसे एटीएम को लूटने की कोशिश करते थे जहाँ कोई सिक्युरिटी गार्ड न हो। दोनों बदमाश इतने शातिर थे की लूटने से पहले ही सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिया था ताकि उनका काला चेहरा बेनकाब न होने पाए।

सोमवार की रात ग्यारह बजे सबसे पहले एटीएम लूटने में प्रयुक्त गैस सिलेंडर को एटीएम के सामने एक गली में रख दिया और फिर आधी रात का इन्तेजार किया। आधी रात करीब ढाई बजे एटीएम में एह्तेशामुल हक हेलमेट पहनकर दाखिल हुआ और अन्दर से शटर गिरा दिया। इस दौरान उसका साथी सरोज एटीएम के बाहर पहरा दे रहा था। एटीएम के अंदर एहतेशाम पसीने पसीने हो गया था और महज छह इंच और काटना बाकी था तभी फुलवारी शरीफ थाना की गश्ती दल को देखते ही बाहर पहरा दे रहा सरोज अख्तर फरार होने लगा। पुलिस गश्ती दल का चालक विष्णु को मामला संदिग्ध लगा। तत्काल पुलिस गश्ती दल ने एटीएम के नजदीक जाकर देखा तो उसके अन्दर की खटपट से पूरा मामला समझ गये।
रात में गश्ती पर रहे थानेदार इन्स्पेक्टर कैसर आलम ,दरोगा राजेश कुमार,अरविन्द किशोर समेत अन्य पुलिस आफिसर मौके पर पहुंचे और एटीएम के अंदर से रंगे हाथ एहतेशाम को गिरफ्तार कर लिया।

घटना स्थल से एटीएम काटने में प्रयुक्त सामान बरामद

एटीएम के अन्दर गैस कटर और गैस सिलेंडर समेत अन्य एटीएम काटने में प्रयुक्त समानो को बरामद कर लिया। एहतेशाम अख्तर की निशानदेही पर सरोज अख्तर के घर पटना के बीएम दास रोड से गिरफ्तार कर लिया गया। सरोज के स्कूटी को पुलिस ने जप्त कर लिया जिससे दोनों एटीएम के पास पहुंचे थे। इससे पहले भी दर्जनों एटीएम काटने का गिरोह फुलवारी शरीफ के गिरोह ने किया था। जिसमे नेहाल,कल्लू समेत कई बदमाशो की गिरतारी हो चुकी है। ये बदमाश जेल में हैं तब पुलिस भी चौंक गयी थी की उसी पैटर्न पर एटीएम लूटने का दूसरा गिरोह कहाँ से आ गया। बिहार शरीफ से एटीएम काटकर उसके पुर्जे पुर्जे को जानीपुर के निहुरा गाँव के पास सडक किनारे फेंक दिया गया। बेउर के सत्तर फिट ,बेउर मोड़,प्रगति नगर समेत कई इलाके में एटीएम काटकर लाखों रूपये उड़ाने की घटना हो चुकी है।

एसएसपी मनु महाराज ने स्वीकार किया की पटना के तमाम एटीएम की सिक्युरिटी के लिए गार्ड और अन्य सुरक्षा उपकरणों के इंतेजाम नाकाफी है। पत्रकारों के सवालों पर की चंद एटीएम में ही गार्ड मुस्तैद रहते हैं जबकि हजारों एटीएम बगैर गार्ड के हैं जिनसे बदमाशो को एटीएम लूटना आसान हो जाता है। इसपर एसएसपी ने बताया की पहले ही इस तरह के कांड होने के बाद उन्होंने बैंको से वार्ता करके एटीएम की सुरक्षा बढाने को कहा था। फिर से एक बार बैंको से मीटिंग की जायेगी ताकि एटीएम सुरक्षित रह सकें।

बदमाशों ने यूट्यूब से सीखा था एटीएम काटने का हुनर

एसएसपी ने बताया की सरोज अख्तर और एहतेशाम दोनों पहले वाहन लूटपाट का धंधा करते थे और जेल से छूटने के बाद यूट्यूब से एटीएम काटने का हुनर सीखकर एटीएम लूटने के काम में लग गये। पकडे गये दोनों बदमाशो ने स्वीकार किया है और दोनों को एटीएम में लाकर पुछताछ किया गया की कैसे उन्होंने एटीएम को लूटना का प्लान बनाया और फिर एटीएम को कांटने में लगे थे।एसएसपी ने कहा की पुलिस गश्ती पार्टी की सक्रियता से एटीएम लूटने से बच गया। इस गिरोह के अन्य बदमाशो की शिनाख्त कर गिरफ्तार किया जायेगा।

पटना लाइव के लिए अजित यादव, (ब्यूरो कॉर्डिनेटर, पश्चिमी पटना) की रिपोर्ट